google-site-verification=-0-aIR21I3n381PMBCnT4ad3SVFW6ZHshsbEShjca74 मुल्ले है, तुम्हारे बाप की जागीर थोड़ी है, जेल तो जाना पड़ेगा ।। Mulle Hai Jail To Jana Padega ।। Baap Ki Jaagir ...
Connect with us

Current Affairs

मुल्ले है, तुम्हारे बाप की जागीर थोड़ी है, जेल तो जाना पड़ेगा ।। Mulle Hai Jail To Jana Padega ।। Baap Ki Jaagir …

Published

on

SD24 News Network –

 

मुल्ले है, तुम्हारे बाप की जागीर थोड़ी है, जेल तो जाना पड़ेगा ।। भारत में सबसे बड़ा गुनाह नमाज पढ़ना है, बालत्कर, डकैती, चोरी नहीं? भारत का माहौल एक विशेष वर्ग द्वारा दसरे विशेष वर्ग के खिलाफ नफरत फेलकर जहरीला बनाया जा रहा है।हम बात हिंदू मुसल्मान की नहीं कर रहे हैं। क्योंकि भारत में आम हिंदू मुसलमान अमन और चैन से रहे हैं।

पिचले 7/8 साल भारत में एक विशेष वर्ग ने जन्म लिया है। उसका काम सिरफ हिंदुओं के दिलों में मुसल्मानो के खिलाफ नफरत फेलाना है। और इस नफ़रत को और ज्यादा भडकाने में रेडियो रवांडा की भूमिका में भारतीय मीडिया नज़र आ रहा है। और यह दोनों जहरीली सोच हमारे देश का काफी हद तक नुकसान किये हुए है । और पता नही कबतक करेगी ।
कट्टर मुस्लिम विरोधी इस्लामोफिबिया की बीमारी से परेशान इंडिया टीवी के मुताबिक । ट्रेन के स्लीपर कोच में नमाज पढ़ कर 3 मिनट के लिए यात्रियों का रास्ता रुकने वाले नमाजियों के खिलाफ रेलवे पुलिस में शिकायत की गई है।
रेलवे बोगी में 72 से 78 तक सीटे होती है । मतलब उस बोगी में जहां नमाज पढ़ी जा रही थी लगभग 100 लोग थे । उनमें से किसी को कोई परेशानी नही हुई । किसी ने शिकायत नही की, आप वीडियो में देख सकते है । हमारे देश की हिन्दू मां बहन कितने आदर से नमाजियों को देख रहे है ।
लेकिन इसी बोगी में एक उत्तर प्रदेश भाजपा के पूर्व विधायक दीपलाल भारती भी थे । बस उन्हें बहुत ज्यादा तकलीफ हुई । पूर्व विधायक है शायद इसीलिए तकलीफ हुई । एक दो ऐसे कारनामे करेंगे तो शायद विधायक बन जाएंगे । खैर,
विधायक दीपलाल भारती ने रेलवे पुलिस में शिकायत की के, मुल्लों द्वारा पब्लिक प्लेस में नमाज पढ़ने से बहुत ज्यादा तकलीफ हुई है । अब क्या मुल्ले है जेल तो जाना पड़ेगा ।
आपको बता दे की, बिलकिस बनो के बालत्कारी गुनाहगार नहीं, अखलख, पहल खाना जैसा सैकडो बेगनाहो की हत्या करने वाले गुनाहगर नहीं। घंटो रास्ते जाम करने वाले भी पुण्यवान जाने जाते हैं। 8 साल की मुस्लिम बच्ची के बलात्कारियों के समर्थन में तिरंगा रैलियां निकलती है । गुनाहगार होने के लिए बस एक ही शर्त है वह मुसलमान हो।
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *